Home News BBC Hindi Patanjali की Coronil दवा के लॉन्चिंग में शामिल NIIMS के Chairman ने...

Patanjali की Coronil दवा के लॉन्चिंग में शामिल NIIMS के Chairman ने अब क्या कहा? (BBC Hindi)

4



पतंजलि ग्रुप ने मंगलवार सुबह ‘कोरोनिल टैबलेट’ और ‘श्वासारि वटी’ नाम की दो दवायें लॉन्च कीं जिनके बारे में कंपनी ने दावा किया है कि ‘ये कोरोना वायरस से होने वाली बीमारी का आयुर्वेदिक इलाज हैं.’ लेकिन इस पर आयुष मंत्रालय ने प्रचार पर रोक लगा दी है. पतंजलि विश्वविद्यालय एवं शोध संस्थान के संयोजक स्वामी रामदेव ने दावा किया है कि “कोविड-19 की दवाओं की इस किट को दो स्तर के ट्रायल के बाद तैयार किया गया है. पहले क्लीनिकल कंट्रोल स्टडी की गई थी और फिर क्लीनिकल कंट्रोल ट्रायल भी किया जा चुका है.” दवा लॉन्च करने के बाद पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड के सीईओ आचार्य बालकृष्ण ने बीबीसी से बातचीत में यह दावा किया था कि ‘उनके संस्थान ने एक थर्ड पार्टी की मदद से क्लीनिकल ट्रायल किये हैं जिनमें पाया गया है कि कोरोनिल का सेवन करने वाले 100 प्रतिशत कोविड-19 के मरीज़ों को राहत मिली.’
यहाँ ये थर्ड पार्टी – जयपुर का नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेज़ (निम्स) है जो एक निजी विश्वविद्यालय निम्स का हिस्सा है और पिछले एक दशक से भी अधिक समय से शिक्षा क्षेत्र में सक्रिय है. लेकिन निम्स ने अब कोरोनिल की दवा के ट्रायल की बात से पल्ला झाड़ लिया है. बीबीसी को दिए इंटरव्यू में निम्स जयपुर के चेयरमैन बीएस तोमर ने कहा है, उन्होंने कोरोनिल दवा का नहीं बल्कि अश्वगंधा, तुलसी जैसी दवाइयों के टैबलेट का क्लीनिकल ट्रायल किया था, जिसका इस्तेमाल कोरोनिल दवा को बनाने के लिए किया गया था. बीएस तोमर ने माना की दवा के मैनुफैक्चरिंग, लाइंसेस और ड्रिसट्रिब्यूशन में उनका कोई हाथ नहीं है. लेकिन क्या निम्स को ऐसे क्लीनिकल ट्रायल का पहले से अनुभव है इस सवाल पर वो बचते दिखे. उन्होंने इस सवाल का भी जवाब नहीं दिया कि इस ट्रायल के लिए उन्होंने रामदेव से सम्पर्क किया था या फिर रामदेव ने उनसे. हालाँकि बीबीसी के इंटरव्यू में उन्होंने ज़रूर बताया कि उन्हे ट्रायल के लिए एप्रूवल सीटीआरआई से मिला है, जिस पर भी उनसे कई सवाल पूछे जा रहे थे.
देखिए निम्स जयपुर के चेयरमैन बीएस तोमर के साथ बीबीसी संवाददाता सरोज सिंह की बातचीत.
#BabaRamdev #PatanjaliAyurved #Coronil #CoronaVirus #COVID19

Corona Virus से जुड़े और दिलचस्प वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करें : https://www.youtube.com/watch?v=npgvIvfmNkE&list=PLYxuvEJLss6ByutcqkthikPxV3ccUkwPB

कोरोना वायरस से जुड़ी सारी प्रामाणिक ख़बरें पढ़ने के लिए क्लिक करें : https://www.bbc.com/hindi/international-51848794

ऐसे ही और दिलचस्प वीडियो देखने के लिए चैनल सब्सक्राइब ज़रूर करें-
https://www.youtube.com/channel/UCN7B-QD0Qgn2boVH5Q0pOWg?disable_polymer=true

बीबीसी हिंदी से आप इन सोशल मीडिया चैनल्स पर भी जुड़ सकते हैं-

फ़ेसबुक- https://www.facebook.com/BBCnewsHindi
ट्विटर- https://twitter.com/BBCHindi
इंस्टाग्राम- https://www.instagram.com/bbchindi/

बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें- https://play.google.com/store/apps/details?id=uk.co.bbc.hindi

source